May 14, 2021

Shayari in Hindi on Friend

दोस्ती में दोस्त, दोस्त का ख़ुदा होता है…
दोस्ती में दोस्त, दोस्त का ख़ुदा होता है…
महसूस तब होता है जब वो जुदा होता है..

Dosti me dost, dost ka khuda hota hai…
Dosti me dost, dost ka khuda hota hai,
Mahsus tab hota hai jab wo juda hota hai.

“कोसिस करो कोई आपसे न रूठे,
जिंदगी में अपनों का साथ न छूटे ,
दोस्ती कोई भी हो उससे ऐसा निभाओ,
की उस दोस्ती की डोर जिंदगी भर न टूटे..”

Kosis karo koee aapase na roothe,
Jindagee mein apanon ka saath na chhoote ,
Dosti koi bhi ho usase aisa nibhao,
Ki us dosti ki dor jindagee bhar na toote..

जिंदगी में कुछ दोस्त क्लोज बन गये …
कोई दिल में तो कोई आखो में बस गये…
कुछ दोस्त आहिस्ता से बिछड़े चले गये….
पर जो दिल से ना गये वो आप बन गये….

Jindagee mein kuchh dost close ban gaye …
Koi dil mein to koee aakho mein bas gaye…
Kuchh dost aahista se bichhade chale gaye….
Par jo dil se na gaye vo aap ban gaye….

कोई भी व्यक्ति हमारा मित्र या सत्रु बनकर संसार में नहीं आता। …..
हमरा व्हार और शब्द ही लोगो को मित्र या सत्रु बनता है…..

Koi bhee vyakti hamaara mitra ya satru banakar sansaar mein nahi aata. …..
Hamara vhaar aur shabd hi logo ko mitra ya satru banata hai…..

खुशबू की तरह मेरी आंखों में रहना,
लहू बनके मेरी नस नस में बहना ,
दोस्ती होती रिस्तो का अनमोल गहना ,
इसलिए दोस्तों को कभी अलविदा न कहना.

Khushaboo kee tarah meree aankhon mein rahana,
Lahoo banake meree nas nas mein bahana ,
Dostee hotee risto ka anamol gahana ,
Isalie doston ko kabhee alavida na kahana ,

मेरी दोस्ती के सरे एहसास ले लो,
दिल से प्या के सरे जज्बात ले लो,
नहीं छोड़ेंगे साथ तुम्हारा,
चाहे इस दोस्ती के इंतिहार हजारो ले लो ,

Meree dostee ke sare ehasaas le lo,
Dil se pya ke sare jajbaat le lo,
Nahin chhodenge saath tumhaara,
Chaahe is dostee ke intihaar hajaaro le lo ,

तेरे न होने से जिंदगी में,
इतनी सी कमी रहती है,
मैं लाख मुस्कराऊ,
फिर भी,
इन आखो में नमी रहती है,

Tere na hone se jindagee mein,
Itanee see kamee rahatee hai,
Main laakh muskaraoo, phir bhee,
In aakho mein namee rahatee hai,

रिश्तों से बड़ी जरूरत क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल जाये तुम जैसा अनमोल,
जिंदगी से उससे और शिकायत क्या होगी।

Rishton se badee jaroorat kya hogee,
Dostee se badee ibaadat kya hogee,
Jise dost mil jaaye tum jaisa anamol,
Jindagee se usase aur shikaayat kya hogee.

प्यार का तो पता नहीं,
पर जिंदगी में एक ऐसा दोस्त,
जरूर होना चाहिए,
जो हर मुश्किल में साथ दे।

Pyaar ka to pata nahin,
Par jindagee mein ek aisa dost,
Jaroor hona chaahie,
Jo har mushkil mein saath de.

दोस्त नहीं पहली आस हो तुम ,
रिश्तों में नहीं विश्वास में हो तुम,
प्यार भरे दिन की शुरुआत में हो तुम
.

Dost nahin pahalee aas ho tum ,
Rishton mein nahin vishvaas mein ho tum,
Pyaar bhare din kee shuruaat mein ho tum.